Virgin Girl First Sex – कुंवारी स्कूल गर्ल का सेक्सी फिगर

Virgin Girl First Sexस्कूल गर्ल की चुदाई की सेक्सी कहानी आज से 3 साल पुरानी है मैं अपनी बहन के घर रहकर पढ़ाई कर रहा था. उनका एक स्कूल था नीचे स्कूल था और ऊपर घर. जुलाई का महीना था स्कूल खुला खुला ही था. मैं सुबह को सो कर उठा और खिड़की पर आकर खड़ा हो गया. Virgin Girl First Sexवंहा मेरी नजर एक लड़की पर पड़ी जिसने स्कूल की सफेद शर्ट और ग्रे कलर की शार्ट स्कर्ट पहन रखी थी. ये हमारे जीजा की स्कूल ड्रेस थी मैं पहली नजर में ही उसको देखता ही रह गया. उसकी हिरण की तरह आंखे.और उसके गुलाबी होठ लाल लाल गाल और मोटे मोटे बूब्स. जब वो हस् है कर अपनी सहेलियो से बात कर रह थी तो उसके गालो में जो डिंपल पड़ रहे थे. उनसे वो और ज्यादा खूबसूरत लग रही थी.पहली नजर में ही मेरा दिल उस पर आ गया. अब मैंने उसके बारे में जानकारी की तो पता चला वो इंटर क्लास में थी और उसका नाम नम्रता था. अब मैं ये सोचने लगा कि कैसे उससे अपने दिल की बात कहु.इसे भी पढ़े – 5 कॉलेज गर्ल के बूब्स चूसने की ड्यूटी लगीइसी सोच में कई महीने गुजर गए पर मैं उससे अपने दिल की बात नही कह पाया. जब हाफ इयरली एग्जाम चल रहे थे और मेरे जीजा और बहन सिटी से बाहर गए हुए थे. तब मैं स्कूल के आफिस में आकर बैठ गया और स्कूल के एक टीचर को मेरी ये बात पता थी.मैंने उससे बोला की क्लास से नम्रता को बुला कर ले आओ. वो गया और नम्रता को बुला कर ले आया. जब वो मेरे पास आई मेरे दिल की धड़कन बढ़ गयी. मैने हिम्मत करते हुए कहा कि नम्रता बैठो तुमसे कुछ बात करनी है.तो वो बोली कि हां बोलिये क्या बात करनी है? मैंने हिम्मत करते हुए कहा कि मैंने जबसे तुमको देखा है मैं तुम्हारा दीवाना हो गया हूं. न मेंरा मन खाने में लगता है और न किसी काम मे मैं तुमसे बहुत ज्यादा प्यार करता हु और तुम्हारे बिना नही जी सकता.मैंने ये सारी बात बोल कर कहा कि तुम्हारा जो भी फैसला हो मुझको बात देना. मेरी ये बात सुनकर वो वंहा से चली गयी. जब पेपर हो गया तब वो मेरे आफिस में आई और बोली कि मुझको पहले से पता था कि आप मुझसे प्यार करते हो और मैं भी आपसे प्यार करती हूं.उसके मुंह से इतना सुनकर मैंने झट से उसका हाथ पकड़ लिया और उसको अपने गले लगा लिया. वो भी मेरे से कसकर लिपट गयी. अब मैंने उसको अपना नंबर दे दिया और हमारी फ़ोन पर बात होने लगी और स्कूल टाइम में हम मिलने लगे.एक दिन मैंने उससे बोला की छुट्टी के बाद तुम यंही पर रुक जाना. उस दिन भी घर पर कोई नही था. और मैंने सोच की आज नम्रता के साथ सेक्स करूँगा. मैं उसको ऊपर अपने रूम में ले गया और उसको गले लगा कर उसके हिप्प्स दवाने लगा.मैं आपको बता दु नम्रता का साइज उस टीम 34-28-34 था जो काफी सेक्सी था. मैंने नम्रता से कहा कि आज हम दोनों प्यार करेंगे पहले. तो उसने मन कर दिया पर मेरे बार बार कहने पर वो तैयार हो गयी.मैं अब उसको लिप् किस करने लगा और उसकी हिप्प्स अपने अपने हाथ फिरने लगा. लगभग मैंने 15 मीन्स तक उसको लिप्किस की उसके बाद मैंने नम्रता को गोद मे उठाया और बेड पर लेट दिया.और मैं उसके पैरों की तरफ बैठ कर उसकी टांगो को किस करने लगा, जिससे नम्रता भी गर्म होने लगी और आहे भरने लगी. अब मैंने नम्रता की थाई पर किस किया और उसकी स्कर्ट ऊपर कर दी उसने लाल रंग की पेंटी पहनी थी.और उसकी चुत का उभार पेंटी के ऊपर से बिल्कुल साफ दिख रहा था. मैंने उसकी पैंटी नीचे की और उस पर किस करने लगा और उसके बूब्स को अपने हाथ से सहलाने लगा. जिस कारण उसको और मजा आने लगा.मैंने भी अपनी पेंट उत्तरी और उसकी गुलाबी चुत. पर जैसे ही अपना लंड रखा तभी मेरा फ़ोन बोल पड़ा. फ़ोन मेरे जीजा का था, उन्होंने बताया कि कुछ लोग घर पर आ रहे है 5 मिन्ट्स में. तुम उनको आफिस में बैठा लो मैं भी आ रहा हु.इतना सुनकर मेरा लंड डाउन हो गया. मैंने नम्रता से कहा कि सॉरी तुम अभी घर जाओ और हम फिर कभी प्यार करेंगे. तो वो मुझ पर गुस्सा हो गयी उसका भी गुस्सा होना सही था. किसी गर्म चुत को न चोदो तो लड़की को गुस्सा तो आयगा ही. “Virgin Girl First Sex”इसे भी पढ़े – वाइफ की अदला बदली कर सेक्सखैर मैंने उसको समझाया और वो चली गयी और मुझको भी गुस्सा आ रहा था. सोच रहा था कि 10 मिन्ट्स बाद ही फ़ोन आ जाता तो आज काम हो जाता. खैर उस दिन मैंने खुद पर कंट्रोल किया और फिर मौके की तलाश में लग गया.नम्रता के घर पर उसकी मम्मी उसकी एक बड़ी बहन और नम्रता ही रहते थे. नम्रता के पापा बाहर रहते थे नम्रता की बड़ी बहन तृप्ति को हमारे बारे में पता था. और तृप्ति का जिसके साथ चक्कर चल रहा था वो लड़का मेरा दोस्त था, तो हम लोगो मे कोई बात छुपी हुई थी.एक दिन नम्रता ने बताया कि उसकी मम्मी 3 दिन के लिए गाव जा रही है. मैं तो खुशी के मारे उछल पड़ा और उस दिन का इंतजार करने लगा. खैर वो दिन भी आया नम्रता ने मुझको शाम को घर बुलाया था और पूरी रात मैं वंही रुकने वाला था.तो मैं शाम को 8 बजे नम्रता के घर आ गया. नम्रता ने उस टीम पिंक कलर का टॉप और सफेद रंग की केपरी पहन रखी थी. और उसकी टंगे एक दम चिकनी थी ऐसा लग रहा था जैसे उसने आज ही वैक्स करवाया है. “Virgin Girl First Sex”मैंने नम्रता से कहा कि सफेद रंग की केपरी को क्यों लाल करना चाहे हो. वो कुछ समझी नही हम लोगो ने साथ बैठ कर खाना खाया. फिर थोड़ी देर बाते की और उसके बाद नम्रता मुझको अपने रूम में ले गयी.मैंने नम्रता से कहा कि तुम स्कूल ड्रेस पहन लो उसमे तुम ज्यादा अच्छी लगती हो, वो ड्रेस पहन कर मेरे सामने आ गयी. मैंने तुरंत उझको गले लगा लिया और उसको किस करने लगा और उसके हिप्प्स को धीरे धीरे दवाने लगा.फिर मैंने उसको लिप् किस करना शुरू कर दिया. थोड़ी देर लिप् किश करने के बाद मैंने उसको दीवार के सहारे खड़ा किया और उसकी पैंटी नीचे कर दी. अब उसकी गुलाबी चुत मेरे सामने थी. मैं झट से उसकी चुत को अपनी जीभ से चाटने लगा.और उसकी बिन चुदी चुत ने पानी छोड़ दिया. उसकी चुत का नमकीन पानी मे पूरा पी गया और नम्रता मेरे बालो को कस कर खीचने लगी और जोर जोर से आहे भरने लगी. मैंने उसको बेड पर लिटाया. “Virgin Girl First Sex”और उसकी टांगों को किस करते करते धीरे धीरे ऊपर आने लगा और उसकी चुत पर आकर रुक गया. और उसकी चुत के दाने को प्यार से सहलाने लगा. अब तो वो चुदने के लिए तड़प रही थी.फिर मैंने धीरे धीरे उसकी शर्ट के बटन खोल कर उसकी शर्ट को उसके बदन से अलग कर दिया. उसने पिंक कलर की ब्रा पहन रखी थी जिसमे उसके बूब्स बहुत ज्यादा सेक्सी लग रहे थे. मैं ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स सहलाने लगा.अब उसकी स्कर्ट भी उतर दी और ब्रा भी उतर दी उसके बूब्स के निप्पल एक दम गुलाबी और टाइट थे. जिनको मैं बड़े प्यार से चूसने लगा और फिर नम्रता की पूरी बॉडी पर किस किया. अब नम्रता को सिधा लेटा कर उसकी दोनों टंगे खोल कर.अपना लंड उसकी चुत पर जैसे ही रखा ओ मचल गयी और बोलने लगी कि कुछ होगा तो नही. मैंने कहा डरो मत जान कुछ नही होगा. फिर अपने लंड से एक जोरदार धक्क मार तो मेरे लंड का सूपड़ा उसकी चुत में गया. “Virgin Girl First Sex”और वो जोर से चीख पड़ी और बोलने लगी कि इसको बाहर निकालो. मैंने तुरंत उसको लिप् किश करना शुरू कर दिया जब वो शांत हो गयी. मैंने एक जोरदार धक्का और मारा और अब मेरा आधा लंड उसकी चुत में समा गया और उसकी चुत से ब्लड निकलने लगा.इसे भी पढ़े – कामवासना से तड़पती चाची को सुख दियाक्योंकि उसकी चुत की सील टूटी थी जिस कारण उझको दर्द भी हो रहा था. थोड़ी देर बाद एक धक्का और मर और मेरा लंड नम्रता की चूत फाड़ते हुए उसकी चुत में समा गया और बच्चेदानी पर चोट करने लगा.अब नम्रता भी चुदाई का मजा लेने लगी और मैं जोर जोर से धक्के मारकर नम्रता को चोदने लगा. लगभग 30 मिन्ट्स बाद मेरे लंड ने अपना माल उसकी चुत में छोड़ दिया और उस बीच नम्रता की चूत ने दो बार अपना पानी निकाला. उस रात नम्रता को मैंने 4 बार जम कर चोदा. उसके बाद जब भी मौका मिला मैंने नम्रता को चौदा. फिर कुछ दिन बाद मुझको वो सिटी छोड़ना पड़ा और हम अलग हो गए. “Virgin Girl First Sex”ये Virgin Girl First Sex की कहानी आपको पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………..कहानी को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे…Like this:Like Loading…Related

Read more Antervasna sex kahani on – Antarvasna