Sexy Dance Show – वाशरूम में विडियो बना कर ब्लैकमेल किया 2

Sexy Dance Showहाय फ्रेंड्स, आपकी श्रुति शुक्ल हाज़िर है अपनी कहानी वाशरूम में विडियो बना कर ब्लैकमेल किया 1 के दुसरे भाग को लेकर. अब तक आपने पढ़ा कि कैसे मुझे क्लास में मनीष ने अपना 9” लम्बा लंड चुस्वाया और मेरी पेंटी भी छीन लिया. और फिर मुझे अपने बर्थडे पार्टी में इनवाईट किया. Sexy Dance Showआख़िरकार उसका बर्थडे भी आ गया, उस दिन शनिवार था. मैंने घर बोल दिया की मंडे से मेरे एग्जाम है, इसलिए मैं सुहाना के घर पढने जा रही हूँ, और आज रात वही रुकुंगी. मेने कैजुअल वियर ब्लू टॉप और डेनिम जीन्स पहनी, और एक बैग लेकर निकल गई.मैं करीब 4 बजे मनीष के घर पहुंची. उसका एक बहुत बड़ा बंगला था. मैं देख कर हैरान थी, कि वो कितना अमीर है. मुझे विश्वास था कि आज यहाँ कुछ गलत नहीं होगा. क्यूंकि उसका बर्थडे है तो उसके घर वाले भी यही होंगे. पर मैं शायद गलत थी.मैं उसके गार्डन से होते हुए उसके मैं गेट पर पहुंची और बेल बजाई. गेट सत्यम ने खोला और मुझे अन्दर बुला लिया. मैं अन्दर आई तो देखा कि घर बहुत अछे तरीके से सजा हुआ है.इसे भी पढ़े – भाभी के मुतने की आवाज ने लंड खड़ा कियाएक कोने में आलिशान बार काउंटर बना हुआ था और वह एक 25-28 साल की एक विदेशी लड़की बहुत ही टाइट और छोटी वेट्रेस ड्रेस में थी. उसकी सफ़ेद दूध जैसी जांघे साफ दिख रही थी. उसकी आधी चूचियां बहार थी और वो बार काउंटर पर  पेग्स बना रही थी. ये नज़ारा देख कर मैं सरप्राइज रह गई.तभी मनीष वह आया. मैंने उसे हैप्पी बर्थडे विश करके हैण्ड शके करना चाहा. लेकिन वो तभी मेरे गले को पकड़ कर फ्रेंच किस करने लगा, और एक हाथ से मेरे जीन्स के ऊपर से मेरी गांड सहलाने लगा. मैंने उसे दूर करना चाहा पर उसकी पकड़ मजबूत थी.अब मैं भी मदहोश होने लगी, और उसका साथ देने लगी. अब हमारी जुबान एक दुसरे के मुंह में थी, और हम एक दुसरे के जीभ को खूब चूस रहे थे.उफ्फ्फ्फ़… ये नज़ारा देखने लायक था. वहां मौजूद उसके दोस्तों ने ताली बजाना शुरू कर दिया. तब हम अलग हुए, मैं शर्म से लाल हो चुकी थी.मैंने पूछा अंकल आंटी कहाँ है?मनीष बोला वो लोग मेरे कजिन के शादी में गए, बस हम लोग ही अकेले है यहाँ.ये सुनकर मुझे पसीना आ गया. क्यूंकि मैं समझ गई कि मैं फंस चुकी हूँ, और मेरे साथ क्या होने वाला है.मनीष ने मुझे सबको इंट्रोड्यूस कराया. मैं अनुज, सत्यम गौरव और सुहाना को जानती थी. वहां 2 और लड़के थे, जो मनीष के पड़ोसी थे, नितेश और आशीष.मनीष ने मेरी तरफ इशारा करके बोला “इससे मिलो ये है मेरी नई सेक्सी और गरम गर्लफ्रेंड श्रुति.”सभी ने मुझे हेल्लो कहा. मैंने भी शर्म से मुंह निचे करके हेल्लो बोल दिया.तभी वेट्रेस आई और उसने सभी को ड्रिंक ऑफर की. सब उसे अपनी गोद में बैठा कर अपने पेग बनवा रहे थे. और उसकी मुलायम दूध सी सफ़ेद जांघो को सहला रहे थे. और सबकी नज़रे उसकी चुचियों पर थी, जो आधी बाहर थी.उसने मुझे भी ड्रिंक ऑफर की तो मैंने कहा मैं ड्रिंक नहीं करती. तो उसने मुझे सॉफ्ट ड्रिंक ला कर दिया. सब म्यूजिक का मज़ा ले रहे थे और एन्जॉय कर रहे थे.तभी नितेश ने मनीष से कहा भाई चलो कोई गेम खेलते है.मनीष ने कहा “चलो स्पिन दी बोतल खेलते है, लेकिन इसमें एक ट्विस्ट है, कि बोतल जिस किसी लड़के पर रुकी वो सुहाना या श्रुति से एक टास्क करवाएगा. और अगर सुहाना और श्रुति पर रुकी वो किसी से भी एक टास्क करवा सकती है.”सुहाना और मेरी आँखे मिली तो हम समझ गए की ये आज हमारी जवानी का मज़ा लूटेंगे. सब लड़को ने गेम के लिए हां बोला, जैसा की प्रेडिक्टेबल था. और सभी के चेहरे पर एक कामिनी स्माइल थी.मनीष ने वेट्रेस से एक खली बियर की बोतल लाने को बोला. और एक रोमांटिक सा सोंग “लेट्स गेट आईटी ऑन” प्ले कर दिया. और खेल शुरू हो गया.सबसे पहले बोतल सत्यम पर रुकी.सत्यम बोला “चल सुहाना आशीष को एक लम्बा स्मूच दे.”सुहाना को शायद इन सब की आदत हो चुकी थी. इसलिए वो उठी और आशीष के होंठो पर एक लम्बा और डीप स्मूच दिया. ये देख कर मेरे शरीर में हलचल होने लगी और मेरे बदन में एक करंट दौड़ गया.फिर बोतल स्पिन हुई, और अब की बार गौरव पर जाकर रुकी. मनीष ने उसे आँख मारी.गौरव बोला “श्रुति, तू अपना ये टॉप निकल दे.”मैं शॉक होकर मनीष की देखा.वो बोला “हाँ, हाँ निकाल दे सब अपने ही तो है.”मैं समझ गई कि अब न नुकुर करने का कोई फायदा नहीं है. मैंने अपना टॉप धीरे से निकाला. मैंने अन्दर वाइट कलर की ब्रा पहनी थी, जो की थोड़ी पुरानी होने के कारण टाइट थी. मेरे कबूतर बहुत मुश्किल से उसमे कैद थे. मेरी चुचियों का उभर बहुत कामुक था. सभी लड़को के मुंह में पानी आने लगा, मेरी मोटी मोटी, गोल और एकदम गोरी चूचियां देख कर.फिर बोतल स्पिन हुई. अबकी बार बोतल सुहाना पर रुकी.सुहाना बोली “आशीष तुम श्रुति की चुचियों को ब्रा के ऊपर से ही मसाज दो.”ये सुनते ही मैं समझ गई कि ये गेम प्लान था, और सुहाना भी इन सब से मिली हुई है. मैं उसकी टास्क सुन कर शर्म से लाल हो गई.आशीष तो जैसे इस मौके का इन्तेजार कर रहा था. वो तुरंत उठ कर मेरे पीछे आ गया, और मेरी दोनों चुचियों को अपने हाथों में भर लिया.उसने मेरी चुचियों को ब्रा के ऊपर से मसलना शुरू कर दिया. मैंने पहली बार अपनी चुचियों पर किसी गैर मर्द का टच फील किया. मेरे लिए न्यू सेंसेशन था.अगले मिनट में ही मैं सिसकियाँ लेने लगी, मेरी सांसे तेज हो गई और मेरी चूत गीली हो गई. वो मेरी दोनों चुचियों को बेरहमी से मसल रहा था और उनको निचोड़ रहा था.सब ये देख कर अपने खड़े हुए लौड़ो को एडजस्ट करने लगे और मजे लेने लगे. ये करीब 5 मिनट तक चला.फिर बोतल स्पिन हुई और अब नितेश पर जा कर रुकी.नितेश बोला “चल सुहाना श्रुति की ब्रा उतर कर उसकी चुचियों को चूस.”मैं ये सुन कर घबरा गई. सुहाना तुरंत उठी और उसने मेरी ब्रा एक झटके में उतार दी. मेरी दोनों नंगी चूचियां अब सभी के सामने थी. सभी लडको ने ये देख कर अपने लौड़े को जीन्स के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया. “Sexy Dance Show”सुहाना ने एक हाथ से मेरी एक चूची को पकड़ा और निप्पल को चाटने लगी. मुझे गुदगुदी होने लगी, और मुझ पर उसका असर होने लगा. उसने तभी निप्पल को अपने मुंह में भर लिया.उसका ऐसा करते ही मेरे मुंह से एक कामुकता भरी “आह्ह्हह्ह्ह्ह” निकल गई. उसने मेरी चुचियों का रसपान करना शुरू कर दिया.वो इ चूची को हाथों से मसल रही थी तो दूसरी को मुंह में भरकर चूस रही थी. मैंने अपनी आँखे बंद कर लि और सिसकिया लेने लगी.मेरे लिए एकदम नया अनुभव था. वो अब जोर जोर से में चुचियों को चूसने लगी और उन पर अपने दांतों से काटने भी लगी. इससे माहौल पूरा गरम हो गया था. तभी मनीष ने बोला “बस कर रंडी बहुत मज़ा ले लिए. चल श्रुति, सुना है तू बहुत अच्छा डांस करती है. चल अब पूरी नंगी हो जा और एक मस्त सेक्सी सोंग पर हम सबको लैप डांस दे.”मुझे बहुत शर्म आ रही थी, पर मुझ पे एक अलग ही नशा हो गया था.इस वक़्त रात के 11 बज चुके थे,और अभी पूरी रात बाकि थी. पता नहीं मेरे साथ क्या क्या होने वाला था. “Sexy Dance Show”मनीष ने पहले ही सबको बोल दिया कि उसके अलावा मुझे कोई टच नहीं करेगा और बस डांस का मज़ा लेंगे.मैंने अपने जीन्स का बटन खोला और उसे उतारने लगी. मेरी सेक्सी लम्बी गोरी टांगे देख कर सबके जीन्स में टेंट बन चूका था.मैंने अब अपनी पेंटी भी उतर दी, और मादरजात नंगी हो गई. मनीष ने एक हिंदी आइटम सोंग लगाया और सभी लड़के सोफे पर बैठ गए.मैंने नाचना शुरू कर दिया, मैं पहले अपनी चूचियां और गांड मटकाते हुए मनीष के पास गई. और उसकी गोद में बैठ गई और अपनी बॉडी शेक करने लगी.इसे भी पढ़े – जेठ जी मेरी जवानी का रस पीने लगेमेरी नंगी चूत में उसका खड़ा लंड चुभने लगा. मनीष ने मेरी चुचियों को पकड़ के जोर से दबा दिया, जिससे मैं जोर से चींख उठी. उसने मुझे दुसरो के पास जाने का इशारा किया.मैं अब सभी लडको के पास एक एक करके गई और सभी को अपनी जवानी का दीदार करीब से कराया. सभी जन्नत के आखिरी द्वार पर थे, और मेरी दूध सी सफ़ेद नंगी जवानी को खा जाने वाली नजरो से घुर रहे थे. “Sexy Dance Show”ये सब करीब 2 घंटे चला.फिर मनीष बोला “चलो भाइयों अब श्रुति से अपना बर्थडे गिफ्त्लेने का वक़्त आ गया है.”मैं समझ गई की अब मेरी चुदाई होने वाली है.मनीष बोला “अब पार्टी ख़तम हो गई है, जिसको जाना है वो जा सकता है. जिसे प्रोग्राम देखना है वो रुक सकता है. पर सिर्फ दूर से देख सकते हो और अपना लंड हिला सकते हो.”नितेश और आशीष वहासे निकल गए और अब बस हमारा कॉलेज ग्रुप वहां था.सत्यम बोला “टू इसे चोद, हम मिल कर सुहाना को पलते है.”इतना कह कर उसने सुहाना को अपनी तरफ खींच कर उसे किस करने लगा. मनीष ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और अपने बेडरूम में ले जाकर अपने बेड पर मुझे पटक दिया. उअर मेरे ऊपर आकर चढ़ गया.वो बोला “देख कुतिया, मैं जानता हूँ, कि तू वर्जिन है पर मैं आज तेरे दोनों होल्स की वर्जिनिटी लूँगा. तुझे मेरे साथ सेक्स करना ही पड़ेगा. प्यार से करेगी तो दर्द कम होगा, वरना तुझे ऐसे चोदुंगा तू घर जाने के लायक नहीं रहेगी.” “Sexy Dance Show”मैंने उसको हां बोल दिया. उसने मेरे होंठो को चुसना शुरू कर दिया. और अब हम फ्रेंच किस्स करने लगे.उसने मेरी जीभ चुसनी शुरू कर दी, और एक हाथ से मेरी चुचियों को मसलने लगा. उफफ्फ्फ्फ़ उम्म्मम्म मैं अब गरम होने लगी.उसने अपने सारे कपड़े निकाला उअर बेड पर बैठ कर बोला “आजा कुतिया चूस इसे.”मैं उठ कर आई और उसके लौड़े के सुपाड़े को चाटने लगी. उसके मुंह से आह्ह्हह्ह निकल गई.वो बोला “मुंह में ले इसे पूरा, रांड.”मैंने वही किया और पूरा लंड मुंह में भर कर चूसने लगी. 2 मिनट बाद उसने मेरे मुंह से लंड निकला और मुझे बेड पर पैर फैला कर लेटने को कहा. “Sexy Dance Show”उसने मेरी गांड के नीचे तकिया लगाया और मेरी चूत सहलाने लगा. मेरी चूत अब गीली हो चुकी थी.मैं बोली “उम्म्म्मम्म उफ्फ्फ्फफ्फ्फ़ मनीष बेबी अब मत तडपाओ, और मेरी चूत में अपना लंड घुसा दो.”इतना सुनते ही उसने ड्रावर से कंडोम का पैकेट और आयल की बोतल निकाला. उसने पहले कंडोम लंड पर चढ़ाया और तेल से मेरी चूत को चिकना कर दिया.उसने अपना लौड़ा मेरी चूत पर रखा और चूत की लिप्स पर घिसने लगा. अब मेरी हालत ख़राब हो चुकी थी, और मैं गांड उठा कर चूत में लंड लेने की कोशिश करने लगी.ये देख कर वो हसने लगा और बोला “देख कैसे कुतिया की तरह तड़प रही है चुदने के लिए.”उसने इतना बोल कर लौड़े को चूत पर टिकाया और एक जोरदार शॉट दिया. अभी सिर्फ उसका सुपाड़ा ही अन्दर गया था, की मैं चीखने चिल्लाने लगी.मैं बोली “आह्ह्ह्हह्ह मनीष, बहुत दर्द हो रहा है प्लीज इसे निकालो…. उईईईइ माँ मैं मरररर गैईईईईइ.” “Sexy Dance Show”वो बोला “अभी तो सिर्फ सुपाड़ा ही गया है, अभी पूरा 9” अन्दर जाना बाकी है.”इतना कहकर उसने एक और जोरदार शॉट मारा और करीब 6” तक मेरी कुंवारी चूत में घुसा दिया.दर्द के मरे मेरी आँखे बहार आ गई, और मैं हाथ पैर मारने लगी. और उससे रहम की भीख मांगने लगी.मैं बोली “आह्ह्हह्ह ओह्ह्ह्हह्ह मनीष प्लीज मुझे छोड़ दो, मैं नहीं झेल पाऊँगी प्लीज मैं हाथ जोडती हूँ.”उसने मेरी एक ना सुनी और एक शॉट में पूरा 9” घुसा दिया. मैं चीखती चिल्लाती रही पर वो नहीं रुका और तेज तेज धक्के मरना शुरू कर दिया. वो साला मुझे मशीन की तरह चोद रहा था.उसके हर एक धक्के में पूरी जान थी, और मुझे कुछ ही देर में मजा आने लगा और मैं उसका साथ देने लगी.वो बोला “क्यों रांड, मज़ा आ रहा है?”मैं बोली “उम्म्मम्म उफ्फ्फफ्फ्फ़ येस्स्स्स मनीष…… चोदो मेरी चूत को…. ऊम्म्मम्म बहुत मज्ज्ज़ा आ रहा है… उफ्फ्फ्फ़ हान्न्न येस्स्स्स…. मुझे बहुत मज़ा आ रहा है…. आह्ह्ह्ह म्मम्मम्मम…. ओह्ह्ह्हह म्मम्मम्म आह्ह्हह्ह…. मुझे और चोदो. मेरी जवानी की धज्जियाँ उदा दो. आह्ह्ह्ह येस्स्स्स.. हार्डडर, येस्सस्सस्स. डोंट स्टॉप फ़किंग मी.” “Sexy Dance Show”करीब ३५ मिनट में उसने मुझे 4 बार झडवा दिया और फिर लंड बहार निकाल दिया.मनीष बोला “ले मुंह में ले इसे.”मैंने कंडोम निकाल कर उसके लंड को चूसने लगी.वो बोला “सारा माल पि जइयो एक अच्छी कुतिया की तरह, एक बूंद भी नहीं गिरना चाहिए.”उसने मेरे मुंह में अपना माल गिरना शुरू कर दिया. और मैं सारा वीर्य पी गई.वो बोला “तेरी गांड मैं किसी और दिन मरूँगा, आज बस तेरी चूत चोदुंगा.”उसने मुझे उस रात 5 बार चोदा और मेरी नाज़ुक सी चूत को सुजा दिया.अगली सुबह मैं उठी तो देखा मनीष मेरे नंगे बदन पर पड़ा हुआ था. वो गहरी नींद में था.मैं उठ कर रूम से बहार आई तो देखा सोफे पर सुहाना और सत्यम नंगे पड़े है और सुहाना की गांड में सत्यम का लंड घुसा हुआ है. ये ऐसे ही सो गए थे. “Sexy Dance Show”इसे भी पढ़े – मेरी बहन बहुत बड़ी रंडी निकलीगौरव और अनुज भी नंगे ही दुसरे सोफे पर पड़े थे. यहाँ फोरसम हुआ था. मैं उनके जागने के पहले फटाफट अपने कपडे पहन कर वह से निकल गई.अगले पार्ट में पढ़िए कैसे मनीष ने कॉलेज में शर्मिंदा किया और फिर वहीँ मेरी गांड भी मारी. “Sexy Dance Show”ये Sexy Dance Show की कहानी आपको मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे…………..कहानी को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे…Like this:Like Loading…Related

Read more Antervasna sex kahani on – Antarvasna