Sas Ki Sexy Jawani – दामाद जी मेरी चुचियों को दबाने लगे

Sas Ki Sexy Jawaniदामाद सास अवैध संबंध मेरा नाम मनोरमा है, मैं 36 साल की हु, मेरा इस संसार में मेरी बेटी श्रृष्टि के अलावा और कोई नहीं है. मेरे पति गोरखपुर में सरकारी नौकरी में थे, पर वो और ज्यादा शराब पिने की वजह से उनका लिवर ख़राब हो गया था और वो चल बसे. जो सरकार से पैसे मिले थे उससे मैंने अपने बेटी की शादी गुरुग्राम में रहने बाले एक लड़के मनीष से कर दी. Sas Ki Sexy Jawaniवो मेरे ही प्रदेश सिवान का रहने बाला था, वो गुरुग्राम में ही सेटल थे. शादी के बाद रितिक गुरुग्राम चली गई, मैं रह गई अकेली, सच पूछिये दोस्तों मेरी ज़िदंगी वीरान हो गई थी. क्यों की मेरे पास कोई और नहीं था, मैं अकेले रह रही थी. पर एक अच्छी बात हुई की, रितिक ने अपना फ़र्ज़ निभाया.और वो मुझे अपने पास बुलाने के लिए मनीष को गोरखपुर भेजी, पहले तो मुझे लगा की मुझे नहीं जाना चाहिए. पर फिर सोची की अगर नहीं जाऊगी तो मेरा क्या होगा, मेरा तो ऐसे भी इस दुनिया में कोई नहीं है.सुबह की राजधानी एक्सप्रेस से दामाद जी आ गए, उनके आने से पहले ही मैंने खाना बना ली और नहा धो कर तैयार हो गई थी. नई नई साडी पहन ली, विधवा भले हु, पर मेरी उम्र अभी ३६ साल ही है, तो अभी भी किसी अठारह साल की लड़की को फेल कर सकती है.इसे भी पढ़े – कमसिन जवान भाभी ने उकसाया देवर कोबदन की बनावट और चूचियों की साइज पे तो आज भी सब को घायल कर देती हु, उन्होंने कहना खाया और थोड़े देर बात चित करते हुए सो गए. और मैं भी उन्ही के पलंग पर ही बात करते करते बैठे बैठे ही सो गई. अचानक मैंने देखा की दामाद जी मेरे गोद में अपना सर रख दिए.मेरी नींद खुल गई, अब मैं सोच रही थी की क्या करूँ हटा दू, की रहने दू. आखिर मेरे दामाद ही तो है. मुझे लगा की नहीं हटानी चाहिए और मैंने उनके सर पर हाथ फेरने लगी. वो और अच्छे से मेरे गोद में सो गए, अब मेरे मन में वासना की आग कौंधने लगी.क्यों की ऐसे मैंने कभी ऐसे जवान को मैंने अपने गोद में नहीं सुलाई थी. पति से ज्यादा बनता नहीं था और आठ साल से बीमारी से ही त्रस्त थी. और मैंने उनके होठों के ऊँगली से छूने लगी. और गाल पर हाथ फेरने लगी. “Sas Ki Sexy Jawani”अचानक उन्होंने कहा आ जाओ ना यार मेरे बाहों में श्रृष्टि मैं समझ गई की, वो शायद श्रृष्टि के गोद में ऐसे सोते होंगे. उन्होंने मुझे अपने तरफ खीच लिया, मैं भी सरक कर निचे हो गई और, उनसे सट कर सो गई. वो मेरी चूचियों को सहलाने लगे और फिर पेट के नाभि में अपना ऊँगली डालने लगे.और फिर मैंने भी अपनी आँचल अपने चूचियों पर से हटा दी, और ऊपर ब्लाउज का बटन खोल दी. वो मेरी चूचियों को दाबने लगे और मेरे गाल में अपना होठ रगड़ने लगे. और उन्होंने आँख खोल दिया. मैं हड़बड़ा गई. वो बोले कोई बात नहीं सासु माँ हड़बड़ाने की कोई बात नहीं, मैं नींद में था ही नहीं.आप बहूत हॉट हो. आप बहूत ही सेक्सी हो. और आपकी उम्र ही क्या हुई है जो ऐसी ज़िन्दगी जी रही हो. मैं नार्मल हो गई और वो मेरे होठ को चूसने लगा और मैं भी उसने होठो को चूसते हुए बालों में अपनी उँगलियाँ फिरा रही थी.इसे भी पढ़े – भाभी ने चूत में क्या डाल लिया खून निकलने लगामेरे तन बदन में आग लग गई थी. मुझे जल्द से जल्द ठुकवाने का होने लगा था, मैंने अपनी साडी उतार दी और उन्होंने मेरे पेटीकोट को उतार कर फिर मुझे ब्रा और पेंटी में निहारते रहे और कह रहे थे ओह्ह्ह माय गॉड क्या चीज है आप, आपके सामने तो जवान लड़की भी फेल हो जाएगी, और ब्रा का हुक खोल दिया, पैंटी निचे उतार दिया. “Sas Ki Sexy Jawani”उसके बाद क्या बताऊँ मेरे दोस्त मेरी बड़ी बड़ी गोल गोल मस्त चूचियों को चाटने लगा और जोर जोर से दबाने लगा. और मेरी तो चूत गीली होने लगी, अपने होठ को खुद के दांतो से दबा रही थी और मेरे मुह से अनायास ही सेक्सी सेक्सी आवाज निकलने लगी.वो भी सिसकारियां ले रहा था, और मेरे बदन को अपने हाथों से सहला रहा था. और वो फिर मेरे चूत को सहलाया और बोला, माँ जी आपकी चूत तो गीली और काफी गरम है .मैंने कहा हां ये आग तो कब से लगी हुई थी. आज धधक गई गई है.और उसने निचे जाकर मेरे पैरों को अलग अलग कर के चूत को चाटने लगा. मैंने आह आह आह करने लगी. वो अपनी जीभ को मेरे चूत को सहला रहा था और जो नमकीन पानी निकल रहा था उसको वो चाट रहा था मैं खुद भी अपनी चूचियों को अपने हाथो से सहला रही थी.फिर क्या बताऊँ दोस्तों उसने अपना लंड मेरे चूत के छेद पर रखा और जोर से धक्का दिया, मुझे दर्द हुआ क्यों की मेरी चूत काफी टाइट थी. दामाद जी बोले आह क्या माल हो माँ जी. इतनी टाइट चूत तो आपकी बेटी की भी नहीं है. मजा आ गया, और ज़िन्दगी का मजा तो अब आएगा, और वो जोर जोर से चोदने लगा. “Sas Ki Sexy Jawani”इसे भी पढ़े – टिकेट के लिए पत्नी को नेता जी के पास सोने भेजामैं भी सेक्सी हो गई. और जोर जोर से कमर उच्छालने लगी. और कमरे में सिर्फ हाय हाय हाय की आवाज आने लगी. दोस्तों क्या बताऊँ मेरे बदन मे सेक्स का करंट दौड़ रहा था, और फिर हम दोनों एक दूसरे को चुदने और चुदवाने में मदद करने लगे. आखिर चालीस मिनट के बाद हम दोनों शांत हो गए, दामाद जी पूरा का पूरा वीर्य मेरे चूत के अंदर डाल दिया, और फिर एक दूसरे को पकड़ कर सो गए.ये शुरआत हो गई थी मेरी नाजायज रिस्ते की मेरा दामाद मेरे साथ ७ दिन रहा और करीब मुझे ३५ बार चोदा, कल ही मैं गुरुग्राम उसके साथ आ गई हु, अब आज सुबह किचन में चुदी थी वो भी खड़े खड़े जब मेरी बेटी नहाने गई बाथरूम में. पर जो भी कहे दोस्तों, मैं बहूत खुश हु. आगे क्या होगा क्या पता पर जो हो रहा है वो बहूत ही सुकून देने बाला है. अब कहते है तुम्हे भी बीवी बनाऊंगा मैं क्या करूँ?ये Sas Ki Sexy Jawani की कहानी आपको पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………..कहानी को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे…Like this:Like Loading…Related

Read more Antervasna sex kahani on – Antarvasna