Maa Beti Sex Story > माँ-बेटी को चोदने की इच्छा (Antarvasna)

माँ-बेटी को चोदने की इच्छा को मन में लेकर फिर मैं कॉलेज खत्म होने का इन्तजार करने लगा और फिर घर जाते मैंने शेव किया और माँ से बोला- आज रात का खाना मैं अपने दोस्त के यहाँ से ही खा कर आऊँगा, आप मेरे लिए इन्तजार मत करना। maa beti sexआप और पापा वक्त से खाना खा लेना।Maa Beti Sex Story > शादी में भाई की साली को चोदामैंने एक अच्छी सी टी-शर्ट निकाली और जींस पहनी और इम्पोर्टेड क्वालिटी का परफ्यूम लगा कर विनोद के घर की ओर चल दिया।जैसे ही मैंने उसके घर के दरवाजे की घन्टी बजाई, अन्दर से एक बहुत ही मीठी आवाज़ आई- दरवाज़ा खुला है आप आ जाइए..मैं समझ गया कि यह जरूर रूचि ही होगी।जैसे ही मैं अन्दर गया, देखा सामने वाकयी रूचि ही खड़ी थी।आज वो बहुत ही सुन्दर लग रही थी, उसने स्लीवलेस टॉप और मिनी स्कर्ट पहन रखी थी, जो उसकी सुंदरता में चार चाँद लगा रहे थे।इस टॉप में उसको स्तनों का उभार साफ़ दिख रहा था।Maa Beti Sex Story > माँ की चुदाई का एहसासमैं तो उसके स्तन ही देखता रहा और अभी मन ही मन उन्हें चचोर कर चूस ही रहा था..कि तभी उसने मेरी हरकत पकड़ ली और मुझसे बोली- भईया, आप गेट पर ही खड़े रहोगे या अन्दर भी आओगे?मैं सच मैं बहुत झेंप गया था और बहुत बुरा भी लगा कि मुझे अपने दोस्त की बहन को ऐसे नहीं देखना चाहिए था।फिर मैं आगे बढ़ा उसने मुझे सोफे पर बैठने का बोला तो मैंने उससे पूछा- विनोद और माँ जी कहाँ है?तो उसने बताया- माँ अपने कमरे में तैयार हो रही हैं और विनोद भईया केक लेने गए हैं।तो मैंने उससे बहुत ही आश्चर्य के साथ पूछा- केक लेने? वो किस लिए?Maa Beti Sex Story > बहन को भाभी की मदद से चोदातो रूचि बोली- आज माँ का जन्मदिन है और इसलिए आपको भी निमंत्रित किया गया है।मैंने उससे पूछा- सच बताओ..वो बोली- सच में.. मैं सच ही बोल रही हूँ।फिर मुझे विनोद पर बहुत गुस्सा आया कि उसने मुझे नहीं बोला कि आज माया का जन्मदिन है.. नहीं तो मैं खाली हाथ न जाता।मैंने रूचि से बोला- मैं अभी थोड़ी देर में आता हूँ।तो वो बोली- भैया आप कहाँ जा रहे हो? भाई अभी आता ही होगा, केक काटने में पहले ही इतनी देर हो चुकी है और देर हो जाएगी।मैंने उससे बोला- मैं तुम्हारी माँ के लिए कुछ गिफ्ट लेने जा रहा हूँ.. मुझे नहीं पता था कि आज उनका जन्मदिन है।Maa Beti Sex Story > देसी आंटी की उसके घर चुदाईनहीं तो मैं साथ लेकर ही आता।तब तक माया उस कमरे में आ चुकी थी।हमारी बातों को सुनकर माया हँसी और मुझसे कहने लगी- मैंने ही विनोद को मना किया था कि तुम्हें कुछ न बताए और रही गिफ्ट की बात तो मैं तुमसे कभी भी मांग लूँगी.. वादा करो जब मैं मांगूगी तो तुम मुझे गिफ्ट दोगे…!अब सब शांत हो गए..लेकिन मैं ऐसे खड़ा था, जैसे मैंने कुछ सुना ही न हो और ऐसा हो भी क्यों न… क्योंकि आज तो माया ऐसी लग रही थी कि उसकी बेटी जो 19 साल की भरी-पूरी जवान थी.. वो भी उसके सामने फीकी लग रही थी।Maa Beti Sex Story > कामवाली को चोदने का असली मजाआज माया ने काले रंग की नेट वाली साड़ी पहन रखी थी, उनके स्तन (boobs) बहुत ही सख्त और उभरे हुए लग रहे थे।उन्होंने चेहरे पर हल्का सा मेक-अप भी कर रखा था।वो आज पूरी काम की देवी लग रही थी।

Posted from – https://antarvasnasexstories.org/maa-beti-sex-story/